326+ Bhojpuri Shayari love In Hindi 2024 | मजेदार भोजपुरी शायरी

नजर चुरावे ल तु काहे भला केहू !!
अपने ही चीज़ चुरावे ला का !!

Bhojpuri shayari,
Bhojpuri shayari love,
Bhojpuri shayari attitude,
Bhojpuri shayari in 2 loine,
Bhojpuri shayari pawan singh,
Bewafa bhojpuri shayari,
Love bhojpuri shayari,
Bhojpuri shayari video,
Bhojpuri shayari sad,
Bhojpuri shayari funny,
Best bhojpuri shayari,

मौसम क मिसाल देही या तोहार !!
केहू पूछत बा कि बदले केकरा आवेला !!

तू रूठ जइबू त हम जीयब कईसे !!
फाटल करेजवा के सीयब कईसे !!

उजाला आपन याद क हमरे साथ रहे द !!
न जाने कवने गली में जिनगी क शाम हो जाइ!!

बहुते परेशान बानी तहार नोकरी से ऐ !!
ज़िनगी ठीक त ईहे होई कि तू हमारो हिसाब क द !!

हमके कब चाह रहे कि हमके !!
ऊ चाँद मिले य़ा असमान मिले !!

मे जिये से मन भर गैल बातबो !!
जियत बानि जिन्दा लाश बन के !!

हम तोहके अब केतना चाही जितना चाहिला !!
तोहरा के दर्द भी उतना ही होला !!

तू ता नजरिए से देलु हर जवाब गोरिया !!
तोसे पूछे कैसे मन के सवाल गोरिया !!

कइसे खतम कर सकीला उनका से आपन रिसता !!
जिनका बारे मे बस सोचते ही सारा दुनिया भूल जाइला हम !!

मुस्कुरा जे छुपा लेला आपन आंसू !!
अपने हालत से ऊ गैरन के भी रुला देला !!

हम तोहके अब केतना चाही जितना चाहिला !!
तोहरा के दर्द भी उतना ही होला !!

हम तोहके अब केतना चाही !!
जितना चाहिला तोहरा के दर्द भी !!
उतना ही होला !!

दिल करेला अब मर जाइब केहू के !!
इंतेजार मे लागता हमरा जाए से !!
पहिले उठ गइल डोली हमार यार के !!

हमरा दिल मे तु रहलु बिसवास !!
बन केदे गैलू धोखा आपन !!
खाश बन केइ दुनिया !!

मुस्कुरा जे छुपा लेला आपन आंसू !!
अपने हालत से ऊ गैरन के भी !!
रुला देला !!

उजाला आपन याद क हमरे !!
साथ रहे द न जाने कवने गली !!
मे जिनगी क शाम हो जाइ !!

हमरे मुककदर मे खाली गम बा त !!
का भइल खुदा उनकर खवाइस !!
त पुरा कर दिहलन !!

जब नाक पे रहेला गुस्सा तब बवाल !!
लागेलू मां कसम जब तू पहिरे लू !!
ललकी सरिया तब तू कमाल लागेलू !!

काश कि ई आंसुवन के साथ तहार याद !!
भी बह जात त एक दिन तस्सली से !!
बईठ के रो लेती !!

उत तरस जाई हमार मुकद्दर मे !!
खाली गम बात का भइल खुदा !!
उनकर खवाइस त पुरा कर दिहलन !!

Merry Christmas Shayari in Hindi | क्रिसमस शायरी

के रात दिन बस तोहरे के याद !!
करीला हमार अंखियां मे लोर तो !!
हरे प्यार के रहिला !!

उजरल घर मे अब केके ढूँढ़त बाड तु !!
बरबाद भईला पर ओकर !!
ठिकाना ना रहेला !!

दिल रो अता तहरा बिना ई बताई कइसे !!
आपन अर्थी खुद ढोव तानी ई बताई कइसे !!
तूत रह रहल बाडू ससुराल मे खुशी खुशी !!

बीना बतवले उ ना जाने काहे हमसे दूरी !!
क लिहलन बिछड केऊ हमार मुहबबत !!
अधूरे छोर दिहलन !!

रूह समाईल बाई देह मे देह इ जहान !!
मे फसल बा ज़िंनगी ईहे सिलसिला से बस !!
आगे बढ़ रहल बा !!

दिल करेला अब मर जाइब केहू के इंतेजार !!
मे लागता हमरा जाए से पहिले उठ गइल !!
डोली हमार यार के !!

ख्वाब आवेला जेकरा वजह से रात मे दिन !!
में उनके वजह से ही भर जाला हमार !!
आंख इ पानी से !!

मत फेक पत्थर पानी मे ऊ हो केहूँ !!
पीयेला मत रह उदास जिन्दगी मे !!
तोहरा के देख के केहू जीयेला !!

हमके कब चाह रहे कि हमके ऊ चाँद मिले !!
य़ा असमान मिले खाली एगो तमन्ना रहे !!
की हमार ऊ सपना के जहाँ मिले !!

Shama Shayari in Hindi | शमा परवाना शायरी

खालीयो शिशा मे निशान रह जाला !!
टूटल दिल मे भी अरमान रह जाला !!
जवन खामोशी से गुजर जाला !!

अईसन परिंदन के कईद कईल हमार फितरत नईखे !!
जे हमरा दिल के पिंजरा में रहके भी
केहू आउर के संग उड़े क शउख रखे !!

इश्क के दुनिया मे तू पहचान हऊ हमार !!
आरे केहू और खातिर कईसे छोड़ दी !!
पागल हो गइल बाड़ू का तू त जान हऊ हमार !!

हमरे मन क कमरा जवन कहिये से खाली !!
पड़ल बा ओके तहार क़दम क आहट भी !!
शोर जइनस लागेला !!

तइका सा दिल के दुनिया सजा के त देख ल !!
तोहरो के ना होई प्यार त कही ह !!
तइका हमरा से अंखिया मिला के देख ल !!

बात सच्ची करूं तो सुन ले हमरी राधा !!
हम तोहरा श्याम न कोई !!
पर तू ही हिस्सा है आधा !!

उन्होने हमसे पूछा कि !!
कैसी लग रही हूं मैं आज !!
मैंने भी भोजपुरी स्टाइल में !!
कह दिया एकदम लल्लन टॉप !!

तनहा रहल त मोहबबत करे !!
वाला क रशम वफा हवे अगर !!
फूल खुशी खातिर होत त केहू जनाजा !!
पर नाही डालत !!

का बुझअ का होला तनहाई तू !!
का जनबअ का होला बेवफाई !!
हई टूटल पाटीये से पुछअ का !!
होला जुदाई !!

काहो नीद अब त आवल करअ केहू !!
नईखे अब हमरा पास जेकरा खातीर !!
तहरा के छोड़ले रही ऊ त अब छोड़ !!
के चल गईनी !!

Flirting Shayari In Hindi|  फ्लर्ट शायरी

घुट घुट के भितरे भितरे दर्द के लोर !!
पी रहल बानी कागज कलम के !!
सँघतिया बना के होठवा के !!
सी रहल बानी !!

सब तरहे क सिकवा सह लेही ला जिनगी !!
य़ेही तरे जी लेही ला मिला लेही ला हाथ !!
जेसे दोस्ती क ओइ हाथ से फिर !!
जहरो पीये पड़ेला !!

के जेतना रतिया मे जागल ह ई तोहरा !!
खातिर उतना तू हूं जागल ह ऊ का और !!
अंखिया मारेलू सबके सहनवा घटवा पर !!
जाना पागल ह ऊ का !!

चुपके से आ के हमारा दिल मे समा जालु !!
सास में भी खुशबू बन के बिखर जालू !!
कुछ आइसने भईल बा तोहरा से प्यार !!
सुतलो में और जगलो में बस तुही नजर आवेलु !!

तोहरा आइला से जिंदगी कितना खूबसूरत हो गइल !!
दिल मे जेकरा बसाइले बानी उ तोहरे ही सूरत बा !!
दूर हनारा से कबो जाई ह ना गलती से भी !!
हमारा हर कदम पर तोहरे जरूरत बा !!

हमरा दिल के धड़कन बडू तू !!
ई सजल मएफिल के बाहर बडू तू !!
हमारा अंखिया के इंतिजार बडू तू !!
हमारा जिंदगी के पहिला प्यार बडू तू !!

हर सँझिया से तोहार बतिया किहल करिले !!
अपना सपनवा में तोहरा के ही देखल करिले !!
प्रेमी ही त बानी हम तोहार जवन !!
हर समइया तोहसे मिले के राह देखल करिले !!

Dooriyan Shayari in Hindi |  दूरियाँ शायरी इन हिंदी

मत फेंक पत्थर पानी में !!
ऊ हो केहूँ पीयेला !!
मत रह उदास जिन्दगी में !!
तोहरा के देख के केहू जीयेला !!

जिनिगी अब पहाड़ जइसन लागे लगल बा !!
सुखला में बाढ़ जइसे लागे लगल बा !!
कुछुओ कहाँ बा आपन अब !!
सब झूठीये के भरम बा
साँसो अब उधार जइसन लागे लगल बा !!

सब तरहे क सिकवा सह लेही ला
जिनगी य़ेही तरे जी लेही ला !!
मिला लेही ला हाथ जेसे दोस्ती क
ओइ हाथ से फिर जहरो पीये पड़ेला !!

हर हवा के झोंखा तुफान ना होला !!
सब पत्थर भगवान ना होला !!
आदमी त बहुत बा दुनिया में लेकिन !!
हर आदमी इंसान ना होला !!

तू रूठ जइबू त हम जीयब कईसे !!
फाटल करेजवा के सीयब कईसे !!
तूही त हउ हमार सोना के सुराही !!
तुही फूट जइबू त पनिया पियब कईसे !!

ई फूलन मे अब उ महक कहॉ !!
इ राह क अब कवनो मंजिल कहॉ !!
क लेती हम मोम अगर केहू पत्थर दिल होत त !!
पर इहां त केहू में इंसानी दिल बा कहॉ !!

बीना बतवले उ ना जाने काहे हमसे दूरी क लिहलन !!
बिछड !! के ऊ हमार मुहबबत अधूरे छोर दिहलन !!
हमरे मुककदर में खाली गम बा त का भइल !!
खुदा उनकर खवाइस त पुरा कर दिहलन !!

Tanhayi Shayari in Hindi | तन्हाई शायरी 2 लाइन

हर हवा के झोंखा तुफान ना होला !!
सब पत्थर भगवान ना होला !!
आदमी त बहुत बा दुनिया में लेकिन !!
हर आदमी इंसान ना होला !!

तू रूठ जइबू त हम जीयब कईसे !!
फाटल करेजवा के सीयब कईसे !!
तूही त हउ हमार सोना के सुराही !!
तुही फूट जइबू त पनिया पियब कईसे !!

अब त एह दिल में खाली,गम के सैलाब बा !!
तहरा से मिलल जख्म,‘तहरा’ से लाजबाब बा !!
ख़ुशी भईल की,तू कुछ देहलू त सही हमके !!
आज तहरे वजह से हाथ में ,फेरु धराइल शराब बा !!

तहरा ख्याल से खुद के छुपा के देखले बानी !!
दिल आउर नजरिया के रुला-रुला के देखले बानी !!
तू नइखूू त कुछहू भी नईखे तहार कसम !!
हम कुछ पल तहरा भुला के देखले बानी !!

लिखल चाहत बानी कि !!
खुश बानी तोहरा बगैर भी ईहां हम !!
मगर कमबखत !!
आंसू बा अइसन कि कलम से !!
पहिलही चल देहलस !!

दिलासा देके अब आउर ना सम्हाल हमके !!
अईसन मखमली तूफान में न पाल हमके !!
कब ले कौनो अनहोनी क डर रहे !!
ईहवें रहे द ना निकाल हमके !!

ई आंसुवन के बूँद हअ या अँखीया के नमी !!
न ऊपर असमान बा न नीचे जमी बा !!
ई कईसन मोड़ बा जिनगी के !!
उनही के जरूरत बा आउर उनही के कमी !!

केहू बताई ए दिल के समझाई कईसे !!
जेके चाहत तानी उनके नज़दीक लाई कईसे !!
उ तहर तमन्ना हर एहसास बानी हमार !!
मगर ये एहसास के ई एहसास दिलाई कैईसे !!

दिलासा देके अब आउर ना सम्हाल हमके !!
अईसन मखमली तूफान में न पाल हमके !!
कब ले कौनो अनहोनी क डर रहे !!
ईहवें रहे द ना निकाल हमके !!

ई फूलन मे अब उ महक कहॉ !!
इ राह क अब कवनो मंजिल कहॉ !!
क लेती हम मोम अगर केहू पत्थर दिल होत त !!
पर इहां त केहू में इंसानी दिल बा कहॉ !!

दरद दे के दरद बढावल ना जाला !!
दीप जलाके दीप बुझावल ना जाला !!
प्रेम केतनो बढ़ी पर बेगाना ना होई !!
दिल लगाके दिल हटावल ना जाला !!

नींद छुपेले जहाँ पे !!
ख्वाब सजेले जहाँ पे !!
खबर ई आईल बा उहां से !!
कि केहू तोहरे जइसन नाहीं !!

दिल से निकलल हर बात एगो जज्बात होला !!
प्यार से बोली वोह बोली के एगो अजबे सौगात होला !!
कबो आजु ले अघाईल नईखे एह नेह छोह के बोली पे !!
जब दिल टुटेला त आंखि से भादो असि बरसात होला !!

ई फूलन मे अब उ महक कहॉ !!
इ राह क अब कवनो मंजिल कहॉ !!
क लेती हम मोम अगर केहू पत्थर दिल होत त !!
पर इहां त केहू में इंसानी दिल बा कहॉ !!

तोहरा के गले से लगाके तोहार सपनवा बन जाईब !!
तोहरा संसिया से मिलके तोहार खुशबू बन जाईब !!
तनिको दूरी न रहे हमनी के नियरा !!
हम अपना के भुला के बस तोहरा में समां जाईब !!

हम जब भी डूबल चाहीला !!
आकाश के ई नील गगनवा में !!
न जाने काहें !!
ई घनघोर बदरा !!
नाय़ बन के हमके बचा लेवेला !!

खालीयो शिशा मे निशान रह जाला !!
टूटल दिल मे भी अरमान रह जाला !!
जवन खामोशी से गुजर जाला !!
उ दरिय़ा भी आपन दिल मे तूफान राखेला !!

मुहब्बत ऊ बारिश हअ !!
जेके छूवे के कोशिश में !!
हथवा त गीला हो जाय़ेला !!
आऊर अखिय़ो नम रहेला !!
बाकि हाथ फिर भी खालीय़े रहेला !!

दिल से निकलल हर बात एगो जज्बात होला !!
प्यार से बोली वोह बोली के एगो अजबे सौगात होला !!
कबो आजु ले अघाईल नईखे एह नेह छोह के बोली पे !!
जब दिल टुटेला त आंखि से भादो असि बरसात होला !!

जिंदगी भर हम जिंदगी से दूर रहनी !!
तहरा खातिर हम अपनों से दूर रहनी !!
अब एह से बढ़ के वफा के सजा का होई !!
तहार होक तोहरो से दूर रहनी !!

आज सोचनी की तोहरा के सपना कही !!
पर सपना त सच होखेला ना !!
तू ख्याले में रोज आईल कर !!
लोग कहेला की ख्याल कबो बदलेला ना !!

केतना इत्मिनान से उ ठुकरा गैलन हमके !!
आंसू बनाई के आंख से टपकाई गैलन हमके !!
कैसन ई रहबरी रहल कैसन फरेब रहल !!
राह देखाई के उहा से भटकाई गईलन हमके !!

दिलासा देके अब आउर ना सम्हाल हमके !!
अईसन मखमली तूफान में न पाल हमके !!
कब ले कौनो अनहोनी क डर रहे !!
ईहवें रहे द ना निकाल हमके !!

मुहब्बत ऊ बारिश हअ !!
जेके छूवे के कोशिश में !!
हथवा त गीला हो जाय़ेला !!
आऊर अखिय़ो नम रहेला !!
बाकि हाथ फिर भी खालीय़े रहेला !!

ऐसे न चाल चल पवन हरजाई !!
लागल झुलानिया कय तार टूट जायी !!
हंस हंस के न बात कर होय जग हसाई !!
लागल उमारिया कय ले छूट जायी !!

बीना बतवले उ ना जाने काहे हमसे दूरी क लिहलन !!
बिछड के ऊ हमार मुहबबत अधूरे छोर दिहलन !!
हमरे मुककदर में खाली गम बा त का भइल !!
खुदा उनकर खवाइस त पुरा कर दिहलन !!

हमके कब चाह रहे कि हमके !!
ऊ चाँद मिले य़ा असमान मिले !!
खाली एगो तमन्ना रहे की !!
हमार ऊ सपना के जहाँ मिले !!

जिंदगी भर हम जिंदगी से दूर रहनी !!
तहरा खातिर हम अपनों से दूर रहनी !!
अब एह से बढ़ के वफ़ा के सजा का होई !!
तहार हो के तहरो से दूर रहनी !!

हमके अब तोहरा से भी प्यार ना रह गईल !!
अब इ जिनगियों के जरुरत हमरा के न रह गईल !!
बुझ गईल उनकर इंतज़ार में जरत उ दियवा भी !!
अब त उनकर आवे का अंदेशा भी न रह गईल !!

गुलो के लाख टटोलनी पर गुलबदन ना मिलल !!
चमन मे जिंदगी गुजरनी बाकी चमन ना मिलल !!
वफ़ा के राह मे जेवन कुछ मिल गनीमत बा !!
केतना त ऐसे चल गैइले,जिनके कफ़न ना मिलल !!

हमरा दिल मे तु रहलु बिसवास बन के !!
दे गैलू धोखा आपन खाश बन के !!
इ दुनिया मे जिये से मन भर गैल बा !!
तबो जियत बानि जिन्दा लाश बन के !!

दिल के हमरा आज ई अहसास हो गईल !!
केहू आपन लोगवा के भीड़ में भुला गईल !!
कईसे उनका के अपना पास बोलाई !!
रह-रह के ऊ हमरा से आउरी दूर ओ गईल !!

सपनवा में आवेला जब उनकर चेहरा !!
ता होंठवन पे हरदम दुआ आवेला !!
भुला जाईला हम उनकर दिहल हर एक दरदिया के !!
जब कबो उनकर ऊ मंद मुस्कान याद आवेला !!

ई आंसुवन के बूँद हअ या अँखीया के नमी !!
न ऊपर असमान बा न नीचे जमी बा !!
ई कईसन मोड़ बा जिनगी के !!
उनही के जरूरत बा आउर उनही के कमी !!

आज सोचनी की तोहरा के सपना कही !!
पर सपना त सच होखेला ना !!
तू ख्याले में रोज आईल कर !!
लोग कहेला की ख्याल कबो बदलेला ना !!

ख़ुशी से हमेशा दूर रखले बा जिन्दगी हमरा के !!
दुःख के समुन्द्र में डूब रहल बानी हम !!
अंखिया से आँशु बहा रहल बानी हम !!
हर गम के अकेले ही सह रहल बानी हम !!

केतना आसानी से कह देहला तु !!
की तोहके के भूल जाई !! कइसे भूल जाई तोहके !!
जबकि तू हमरे हर साँस हर धड़कन में शामाइल बानी !!
कईसे भूल सकेला कोई सांस लेवे !!
कैईसे रुक सकेला ई दिल के धड़कन !!
तोहके भूलले से अच्छा बा !! ई सांस के भूल जाई !!

बीना बतवले उ ना जाने काहे हमसे दूरी क लिहलन !!
बिछड !! के ऊ हमार मुहबबत अधूरे छोर दिहलन !!
हमरे मुककदर में खाली गम बा त का भइल !!
खुदा उनकर खवाइस त पुरा कर दिहलन !!

दिल के बेकरारी बोलावत बा आजा !!
आज ई तनहाई सतावत बा आजा !!
तहरे बिना सुन बा मनवा के बगिया !!
आके तू एह के महका द ए रानी !!

जियत जिनगी ना भुला पाईब तोहरा के !!
गली में घुमत रहेब तोहार नाम ले-लेके !!
एही तरह कहीं अगर हम मर गइनी !!
त हमार रुह भी भटकत रही तहरे पीछे !!

हजारों बार लेहलू !!
तु तलाशी हमरे दिल के !!
बतावा कबो कुछो मिलल ह !!
इ दिल में तोहार चाहत के सिवा !!

खालीयो शिशा मे निशान रह जाला !!
टूटल दिल मे भी अरमान रह जाला !!
जवन खामोशी से गुजर जाला !!
उ दरिय़ा भी आपन दिल मे तूफान राखेला !!

छत से तू आपन हमरा घर के देख ला !!
सपना तू कवनो आज निमन देख ला !!
परखे के बा अगर प्यार के हमरे ता !!
तू बोला कवनो झूठ और हमार विश्वास देख ला !!

लिख देही त लफ्ज़ तु ही बालु !!
सोची ले त ख़्यालो में तु ही बालु !!
मांगी लें त मन्नत में तु ही बालु !!
चाही लें त मोहब्बत में भी तु ही बालु !!

रात में जागल मत कर् सूत लीहल कर् !!
अइसहीं मन में आँसू मत रोकल कर् रो लिहल कर् !!
हमरा ईयाद में त हरमेसे रहेलस गुमसुम !!
कबो कबो अपनो के ईयाद कर् लिहल कर् !!

Leave a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Scroll to Top