Love

475+ Respect Shayari In Hindi | रिस्पेक्ट शायरी हिन्दी

माना कि दर्द में हो !!लेकिन !!यूं सबके सामने खुल जाना भी !!तो अच्छी बात नहीं !! वक्त के साथ जज़्बात बदल रहें हैं !!अब एक दूजे के लिए नहीं !!पर खुद के लिए जी रहे हैं !! मैं अपनी तारीफ खुद ही कर लेती हूँ !!क्योंकि जमाने को रोक ही !!नहीं सकती अपनी बुराई […]